चूत फाड़ दे ऐसी चुदाई है मेरी


Hindi sex story, kamukta हाई फायी करो दोस्तों | मुझे आप लोग नहीं पहचानते है | उसके बावजूद मेरे पास आपके लिए कुछ बेहतर खबर है | हमे रोजाना खबर के प्रति जागरूक रहना होगा ताकि हम उन घटनाओ के विषय में जान सके जो हमारे आस पास घटित होती है | हम लोग अपनी लापरवाही के कारण अपने आस पास होने वाली महत्व पूर्ण घटना के विषय में नहीं जानते और उनसे होने वाले फायदे तक नही पहुच पाते है | जितने लोग खबरो का महत्व पहचानते है उनके लिए सब सरल होता है | मै भी आप लोग की तरह रोज अपने निजी कार्यो में व्यस्त रहता हूँ | व्यस्त लोगो के पास वक्त नही होता है इसलिए उनके पास खबर भी देर से पहुचती है | मेरे पास कुछ ख़ास खबर है मेरे मामा की | मै जब आवारा घूमता था तब मै अपने रिश्तेदारो के यहा घुमा करता था | मै अपने शहर में आवारो कि तरह घुमा करता था | मेरे पास एक गाडी थी उस पर पेट्रोल भाराने के लिए मम्मी से रूपए ले लेता था | गाडी में पेट्रोल भराकर मै एक छेत्र से अन्य छेत्रो में आवारा घुमा करता था | मेरे मामा भी मेरे हमउमर के है | वो अक्सर गाव छोडकर शहर आजाते थे और हम लोग एक गाडी में बैटकर शहर में घुमा करते थे | मेरे पास गाडी में पेट्रोल भराने के लिए रूपए नही होता था तो मै अपने मामा से रूपए मांगता था |

मेरे मामा गाव से जब आते थे तो तब उनके पास रूपए रहता था लेकिन जब वो शहर में रहते थे तो गाडी में पेट्रोल भाराना की वजय से उनके पास भी रूपए समाप्त हो जाता था | मेरे घरवाले अक्सर मुझे अपना खर्च उठाना की सलाह देते थे | उनकी सलाह ले कर में थक गया था इसलिए कुछ दिन के लिए मै अपने मामा के साथ गाव चला गया | मेरे मामा खेत से उनकी आमदनी कमा लेते थे | लेकिन गाव में चलाने के लिए गाडी नहीं होती थी | मेरे मामा के पास भी इतना रूपए नहीं था कि वो एक नयी गाडी खरीद सके | एक दिन मुझे मेरे मामा ने राय दिया क्यों न तुम भी तुम्हारे शहर में कोई कार्य कर लो | अगर जॉब करोगे तो रूपए पास में होगा और हम लोग रोज गाडी में घूम सकते है | हमारे पड़ोस में एक लड़की रहती थी उसके घर मै सरलता से आ जा सकता था | मेरे मामा उस लड़की को घुरा करते थे | एक दिन मेरे मामा ने मुझसे अनुरोध किया की मुझे उस लड़की से दोस्ती करना है | उनके अनुरोध पर मैने अपने मामा को उस लड़की से पहचान करवाया | मेरे मामा उस लड़की से बात करने में झिझकते थे इसलिए जब मै रहता था तभी वो उस लड़की से बात करता था | मै अपने मामा के झिझक दूर करने के लिए काफी देर तक उस लड़की के सामने अपने मामा को ले कर खड्डा रहता था | मै उस लड़की से हसी मजाक करता था और मेरे मामा भी हस्ते थे | उस लड़की से दोस्ती तो मैने करवा दी थी लेकिन मुझे अपने मामा की झिझक दूर करना था | मैने अपने मामा को एक रास्ता दिखाया की आप उस लड़की के सामने चुटकुले सुनाया करो | मेरे मामा ने कुछ ऐसा किया उन्होंने उसके सामने चुटकुले सुनना शुरु कर दिया | चुटकुले सुनकर वो खुस होती थी | अब वो लड़की मुझ से और मेरे मामा से चुटकुले सुनाने का अनुरोध करने लगी थी |

जब वो मुझ से अनुरोध करती थी की मुझे चुटकुले सुनना है तो मै उसे कहता था की मुझे चुटकुले नहीं आते है और चुटकुले का सौक है तो मामा आयेंगे उन से सुन लेने | मेरे मामा ने कई सारी चुटकुले तयार कर लिया था ताकि वो उस लड़की को सुनना सके | मेरे मामा जो भी करते थे पूरी लगन से करते थे इसलिए उन्होने करीब 500 चुटकुले तयार किया था | उसमे से एक चुटकुला उन्होने उसे सुनाया था | दुनिया में फूल तो बहुत है लेकिन कोई कमल सा नही और दुनिया में लोग तो बहुत है लेकिन कोई तुमसा नही | मै अपने मामा के चुटकुले पर गर्व करता था क्योकि उनके चुटकुले मैने पहेले कभी नही सुना था | उस लड़की को चुटकुले सुनने की आदत हो गयी थी | चुटकुले सुनने की आदत के वजय से उस लड़की की दोस्ती मेरे मामा से ख़ास तौर से हो चुकी थी | अब जब मै नहीं रहता था तब भी वोह लड़की मेरे मामा से चुटकुले सुनाने को कहती थी | मेरे मामा ने भी मेरी अनुपस्तिथि में उस लड़की को चुटकुले सुनाया करते थे | कुछ दिन बाद मेरे मामा और उस लड़की ने मेरे साथ एक दिन घुमने का फैसला किया | वो लड़की उसकी एक सहेली के साथ हमारे साथ घुमने के लिए गई | घुमने के दौरान मेरे मामा ने उस लड़की को एक मैदान में चुदाई कर दी | जब वो चुदाई कर रहे तो उस लड़की की सहेली कही दूर पर रुककर उसका इन्ताजार कर रही थी |

Loading...

जब मामा उस लडकी की चुदाई कर रहे थे तब उस दिन मामा उस लडकी की चुदाई बिना कपड़े उतारे कर रहे थे | उस दिन उस लडकी ने बड़ा से सलवार और पजामा पहनकर आई हुई थी | उसके कपड़े का रंग लाल था | जब मामा ने उस लडकी को चोदना शुरु किया था तब उस लडकी के पजामा का नाडा मामा ने खोला और खोलने के बाद उसके पजामा को निचे कर दिया | उस लडकी ने तब सिर्फ चड्डी को पहना था | इसके बाद मामा ने उस लडकी के चड्डी के अन्दर अपना हाथ डाल दिया | उसके बाद मामा ने उस लडकी के चूत को अपने हाथो से रगडा | जब वो लडकी की चूत को अपने हाथो से रगड रहे थे तो उस लडकी के चूत से पानी निकल रहा था | उसके बाद मामा ने उस लडकी के चूत से निकल रहे पानी को चाटा | उसके बाद मामा ने उस लडकी से कहा की अब मुझे तुम्हरी चूत के अन्दर अपने लंड को डालना है इसके बाद उन्होने उस लडकी के चूत के अन्दर लंड डाल दिया | लंड डालने के कारण लंड से माल बाहर आने लगा | उसके बाद मामा ने उस लडकी से कहा की अब मुझे तुम्हारी चूत को चाटना है इसलिए तुम तुम्हारे पैर को फहला दो ताकि मै तुम्हारी चूत को अपनी जीब से चाट सकू | इसके बाद उस लडकी ने उसके पैर को फहला दिया | मामा उस लडकी की चूत को चाटने में व्यस्त हो गये | इतना कुछ करने बाद मामा ने उस लडकी के गांड को चोदा |

मैने अपने मामा को चुदाई करते हुए पकड़ा |  उस दिन के बाद से मेरे मामा को मैने सतर्क कर दिया था अगर उसके भाई को कुछ मालूम चला तो आपके लिए दिक्कत हो सकती थी | मेरे मामा का सम्बन्द उस लड़की से अटूट हो चूका था इसलिए मेरे मामा उस लड़की से मिलने के लिए गाव को छोडकर आ जाते थे | मेरे मामा ने एक दिन उस लड़की को ले जाकर फिर चुदाई करने का फैसला किया | उस दिन मेरे मामा ने मुझे खर्चा भी दिया था लेकिन मैने उन्हे समझाया कि अगर आप ऐसा करेंगे तो उसका भाई आपको पकड सकता है और एक बावाल हो सकता है | इसके बाद भी मेरे मामा ने उस लड़की चुदाई किया | कुछ दिन बाद उस लड़की की शादी तय हो गयी | मेरे मामा को उस लड़की से अलग रहना पसंद नहीं था | मेरे मामा ने उस लड़की से शादी करना का वादा किया था | जब उस लड़की की शादी तय हो गयी तो उन्हे वादा पुरा करना था | लेकिन मुझे अपने मामा को उस लड़की को पाना में सहायता करनी थी | हमने उस लड़की को भगाने का योजना बनाया | उस लड़की को भगाने के बाद मेरे मामा ने उससे शादी कर ली | मेरे मामा ने मामी को गाव में ले गए | एक दिन मै अपने मामा से मिलने के लिए गया | उस गाव में रहकर मैने अपने मामा को अपनी मामी को खेत में चुदाई करते हुए पकड़ा | मुझे मेरे गाव में रहते हुए एक साल हो गया था |

मेरे मामा ने मुझे गाव में ही रहकर रूपए कमाने का अनुरोध किया | उसके बाद मैने एक साल तक वहा रूपए कमाये | मेरे मामा ने मुझे भी शादी कर लेने का राय दिया | मैने अपने गाव में एक लड़की से शादी करने का फैसला किया | शादी के लिए मेरे मामा ने मेरी मामी की कोई पहचान वाली लड़की को चुना | मेरे मामा ने मुझे शादी करना का लालच दिया | मेरे मामा ने मेरे लिए नये कपडे बनवाया था ताकि उनको पहनकर मै शानदार दिखू | मेरी शादी के दौरान मेरे पहचान के सारे लोग आये थे | जब मेरी शादी होने वाली थी तब मेरे घर में कई महमान आये थे | मेरे घर में आये महमानो ने मुझे कई सारे थोफे दिए थे | मै मेरे घर का सबसे छोटा लड़का हूँ | इसलिए मेरी शादी के लिए मेरे घरवालो ने अधिक खर्चा करना तय किया था | मेरे बड़े भाई और बहन ने भी मेरी शादी में खर्चा दिया | मेरे मामा ने मेरा लिया एक गाडी देना का वादा किया था अगर मैने शादी कर ली | वास्तविकता यह है शादी के बाद मेरे मामा ने मुझे एक नयी गाडी मुझे थोफे में दिया | उस लड़की से जिससे मैने शादी की उसके घर के रिस्थेदारो ने भी मुझे कई सारे थोफे दिया | आज मै जो कुछ हूँ अपने मामा के बदौलत ही हूँ | शादी करने के कुछ दिन बाद मेरी पत्नी के भाई ने मेरे लिए एक नौकरी लाई | नौकरी करने पर मुझे एक शानदार तनखा मिलने लगी | अब मै अपनी पत्नी के साथ अपने मामा का गाव छोडकर शहर में रहता हूँ | शहर में नौकरी के अवसर अधिक रहते है इसलिए मै शहर में रहने लगे |

शहर में मुझे रहते हुए करीब 30 साल हो चुके और मेरी उमर भी 30 कि हो चुकी है | मै बचपन से ही शहर में रहता था | मुझे नौकरी करते हुआ तीन साल हो चुके है | एक दिन मैने अपने मामा मामी को ले कर शिमला घुमने का फैसला किया | शिमला में मैने अपनी पत्नी को भी ले कर गया था | हमने शिमला में एक होटल बूक किया था | मेरे मामा एक दिन नहाकर होटल में तयार हो रहे थे | मै भी उनके कमरे में था | मेरे मामा ने मुझे महत्व नहीं दिया और वो मेरे हम उमर के थे और इसके पहेले भी उन्होने ऐसा किया था | उस दिन नहाने के बाद मेरे मामा ने मामी की चुदाई कि | मेरे मामा जब मामी को चोद रहे थे तब मै अगले कमरे में था | चुदाई लम्बी थी इसलिय मैने बहर जाने वाले कमरे का दरवाजा बंद कर दिया था ताकि बहर से कोई आ न जाये | मेरे मामी ने मुझे जब दुसरे वाले कमरे में बैठा हुआ पाया तो चाकित रह गयी थी | लेकिन मेरे मामा जब आये तो उन्हे कोई फर्क नहीं पड़ा | मुझे अपने मामा कि बेसरमी का पता चला क्योकि वो चुदाई बिना दरवाजा बंदकर के कर रहे थे | मैने अपने मामा को समझाया अगर आपको चुदाई करना है तो आप दरवाजा बन्दकर किया करो | उसके बाद मेरे मामा कपडे पहनकर तयार हो गए और मेरी मामी भी तयार थी | मै अपने पत्नी को आवाज दिया और वह भी होटल से बाहर निकलकर आई और हम लोग कार में बैट गए | कार हमने करिये पर ली थी इसलिए उस वक्त कार एक लड़का चला रहा था | वो लड़का कार धीरे चला रहा था | कार चलते वक्त मैने अपनी पत्नी के गाल का चुम्मा लिया और वह सरमा गयी | शिमला वैसे तो घुमने के लिहाज़ से काफी शानदार जगह है | कई लोग शिमला में उनके छुट्टी के दौरान यहा पर आते थे | हमने शिमला में एक ढाबा मिला था वहा पर हमने दाल रोटी, हलुआ पूरी, छोले, इत्यादि खाया | ढाबा में कार्य करने वालो ने हमे शानदार सेवा दी | उसे पाकर हमें अत्यादिक खुसी मिली | मुझे अपने मामा का साथ पसन्द है क्योकि उनके पास किसी भी कार्य को करने की प्रतिभा अदभुत है | मै उन्हे उनके अहसान के लिए धन्यवाद देता हूँ |

इस अन्तर्वासना कहानी को शेयर करें :
error:

Online porn video at mobile phone