गर्ल्स होस्टल की हसीं लडकी को चोदा


kamukta, hindi sex story हाय दोस्तो | आपको मैं अपनी असली कहानी सुनाने जा रहा हूँ | जब आप कहानी सुनोगे तब आप को मालूम चलेगा की मैंने अपनी एक छोटी बहन की सहेली को कैसे चोदा | मेरी बहन घर से बाहर रहा करती थी | वो घर से बाहर इसलिए रहा करती थी क्योकि उसको नर्स की ट्रेनिंग करना था | नर्स की ट्रेनिंग करने के लिए उसको ग्रल्स होस्टल में रहना पड़ा | उसकी कई सहेलिय थी जो उसके साथ गर्ल्स होस्टल में रहा करती थी | मेरी बहन छुट्टिया बिताने के लिए उसकी सहेलियो के घर पर जाया करती थी | उसकी सहेलिय छुट्टिया बिताने के लिए मेरे घर पर आया करती थी | एक दिन मैंने अपनी बहन की एक सहेली को घर पर चोदा | जब घर पर कोई नही था और उसकी सहेली घर पर अकेले मौजूद थी तब मैंने उसकी सहेली को चोदा | वो लड़की भी मुझे घुरा करती थी क्योकि मैं एक स्टाइलिश लड़का हूँ | मैं नए कपडे पहनकर तयार रहता हूँ और साफ सफाई मुझे पसन्द है | उस लड़की को ऐसा लगता था की मैं एक रहिस लड़का हूँ | क्योकि मेरा पहनावा काफी रोचक हुआ करता था और इसकी वजह मेरे नए कपडे थे | नए कपडे पहनकर मैं रहा करता था | जब वो लड़की मेरे घर पर आई हुई थी तो उसने मुझे देखा और मुझे नमस्ते किया |

मेरी बहन ने उस लड़की से मेरा परिचय करवाया | जब उस लड़की से मेरा परिचय हो गया तो उसने मुझ से बात करना शुरु कर दिया | मेरे घर पर आने के कुछ दिन के बाद से उस लड़की ने मुझ से बात करना शुरु कर दिया | वो लड़की मेरे साथ नास्ता खाया करती थी और उस समय मेरी बहन भी साथ में रहकर भोजन खाया करती थी | उस लड़की का साथ पाने के बाद मैं बदल गया था क्योकि उस लड़की ने मुझे प्रभावित किया था उसकी प्रतिभा के कारण | उस लड़की के पास कई प्रतिभा मौजूद थी | उस लड़की से मुझे प्रेरणा मिलती थी | एक दिन जब मैं उस लड़की से बात कर रहा था उसकी प्रतिभा के ऊपर तो बात करने के दौरान मैंने उस लड़की के होटो को चूम लिए और उस लड़की ने भी मेरा साथ दिया | घर पर कोई मौजूद नही था इसलिए मैंने उसकी चुदाई भी किया | जब मैं उसकी चुदाई कर रहा था तब मैंने उसके कपडे उतार दिया था | वो नंगी थी और मैं अपने हाथो से उसकी चूत को सहला रहा था | फिर मैंने उसकी चुतड में अपना लंड अन्दर डाला और उसे धक्के देने लगा | मेरे लंड से वीर्य गिरने लगा और उसकी चूत में वीर्य अन्दर तक गिरा | जब मेरे लंड से वीर्य बह रहा था तब मुझे उस लड़की को चोदने में चिकनाई मिल रही थी | इसलिए मैं उस लड़की को देर तक चोद पाया |

देर तक उस लड़की को चोदने के बाद जब मेरे लंड से वीर्य निकलकर बाहर आगया तब मुझे थकावट होने लगी और मैंने उसे चोदना रोक दिया | लम्बे समय तक की चुदाई आखिरकर एक नया रंग ले कर आई वो लड़की मेरी गर्लफ्रेंड बन चुकी है | फिर वो लड़की कॉलेज खुलने पर मेरे घर को छोडकर ग्रल्स होस्टल चली गयी | ग्रल्स होस्टल पहुचने के बाद उसने मुझे फोन लगाया | उस लड़की ने मुझ से कहा की कभी ग्रल्स होस्टल घुमने के लिए आना | उसके ऐसा कहने पर मैं उससे मिलने के लिए तयार हो गया | उस लड़की के ग्रल्स होस्टल पहुचने के बाद मैंने उस लड़की को फोन लगाया तब वो मुझ से मिलने के ग्रल्स होस्टल के बाहर आ गई | लेकिन मेरी बहन को भी मालूम चल गया था की मैं उसके शहर पर गया हूँ जिस शहर में मेरी बहन का ग्रल्स होस्टल है | तब मैंने अपनी गर्लफ्रेंड से उसके शहर पर मिलकर ये कहा की मैं तुम्हारे शहर पर किसी खास वजह से आया हूँ तो मेरी बहन ने मेरे रहने की व्यवस्ता किया | उसे उसके शहर के विषय में मालूम था इसलिए उसने मेरे लिए एक किराये का घर दिलवाया | मैं उसके दिलाये हुए किराये के घर पर रहने लगा |

Loading...

मेरी बहन भी उस किराये के घर पर आया करती थी | मेरी बहन कभी अकेले तो कभी उसकी सहेली को ले कर आया करती थी | एक दिन जब मैं फुर्सत से आराम कर रहा था तब मेरे दरवाजे पर कोई खट खटखटा रहा था | जब मैंने दरवाजा खोला तो मेरी बहन और एक लड़की आई हुई थी जो की मेरी गर्ल फ्रेंड नही थी | जब वो लड़की मेरे किराये के घर पर आई थी तो उस लड़की ने छोटे कपडे पहने हुए थे | उस लड़की ने अन्दर से कुछ नही पहना था इसलिए जब वो झुकती थी तो उसके दूद को मैं साफ देख सकता था | उस लड़की का जांग गोरा था | उस लड़की से बात करने के दौरान मैंने उस लड़की से उसका फोन नम्बर ले लिए लेकिन अब तक वो मेरी गर्ल फ्रेंड नही थी इसलिए मैं उसे फोन नही लगाया करता था | लेकिन मुझे उसे अपनी गर्ल फ्रेंड बनाना था इसलिए एक दिन मैंने उस लड़की के फोन पर नम्बर लगाया और उससे कहा की मेरी बहन के फोन नम्बर पर फोन नही लग रहा है इसलिए मुझे तुम्हारे फोन नम्बर पर फोन लगाया हूँ | उस समय मेरी बहन वहा पर थी उस लड़की ने मेरी बहन को फोन दिया | मैंने अपनी बहन से कहा की मैं अपना जन्मदिन बनाने वाला हूँ लेकिन तुम आना और तुम्हारी कुछ सहेलियो को भी ले कर आना | मैंने अपनी बहन से कहा की उस लड़की को भी लेकर आना जिसके फोन पर मैंने फोन लगाया है | मैं उस लड़की के फोन पर कभी कभी फोन लगाया करता था क्योकि वो अभी तक मेरी गर्ल फ्रेंड नही बनी हुई थी | मेरा जन्म दिन बनाने के लिए मेरी बहन मेरे किराये वाले घर आई हुई थी |

मेरी बहन के साथ कई अन्य लडकिया भी मेरे किराये वाले घर पर आई हुई थी | वो लड़की भी मेरे घर आई थी जो छोटे कपडे पहना करती थी | उस लड़की को पटाने के लिए मैंने जन्मदिन बनाना तय किया था | मैं जन्म दिन बनाने में लगा हुआ था उस दिन लडकियो के लिए मैंने स्वादिस्ट भोजन बनाया था | लडकियो ने मेरे जन्म दिन की तारीफ किया | मेरे जन्म दिन के दिन वो लड़की छोटे कपडे पहनकर आई हुई थी | जन्म दिन के अवसर पर मैंने उस लड़की से बात करने के दौरान एक नया कपडा दिया था ताकि मैं उसका खास बन सकू | मैं अपनी बहन की अन्य सहेलियो को भी मेरे जन्म दिन के अवसर पर नए कपडे दिया था | उस दिन मेरे लिए एक खास अवसर था क्योकि ऐसा करने के बाद उस छोटे कपडे पहनने वाली लड़की का एक खास बन्दा बन चूका था | अगले दिन मैंने उस लड़की को फोन लगाया और उस लड़की ने मेरे जन्मदिन की तारीफ किया और उसने मुझे वादा किया की जब उस लड़की का जन्मदिन आएगा तो वो मुझे अवस्य बुलाएगी | कुछ महीने तक ये सिल सिला चलता रहा | रविवार का दिन था तब मैंने अपनी बहन को फोन लगाया और उससे कहा की तुम तुम्हारी सहेली रीमा को भी घर पर लाना क्योकि मैंने तुम्हारे लिए कुछ खास पकवान बनाया है | मेरे ऐसा कहने पर मेरी बहन और रीमा मेरे घर पर आई हुई थी | जब वो लोग मेरे घर पर आये हुए थे तो रीमा से मैं बात कर रहा था |

कुछ समय के बाद मेरी बहन को एक फोन आया और घर से बाहर चली गयी | वो घर से बाहर किसी से फोन पर बात कर रही थी | मेरे पास मौका था की मैं रीमा के दूद को दबा सकू | मैंने देखा की रीमा अकेली है और फिर मैंने उसे अपनी बाहो में ले लिया | उसने भी मेरा साथ दिया और मुझे गले लगा लिया | जब उसने मुझे गले लगाया तो मैं उसके होटो को चूमने में लग गया | कुछ समय तक मैं उसके होटो को चूम रहा था | मेरी बहन घर के बाहर थी इसलिए मैंने उस लड़की को छोड़ दिया | कुछ समय के बाद मेरी बहन घर के अन्दर आ गई | फिर हमने मेरे घर का बनाया हुआ भोजन खाया | जब वो लड़की भोजन खा रही थी तो वो मुझे देख कर हस रही थी | जब वो लड़की मेरे घर को छोडकर जा रही थी तब मैंने उस लड़की से कहा की मिलने के लिए फिर आना | जब वो लड़की ग्रल्स होस्टल पहुच गयी तब मैंने उसको फोन लगाया और कहा की आप लोग कहा पर हो | उस लड़की ने मुझे बताया की हम लोग ग्रल्स होस्टल पहुच चुके है | उस लड़की से फोन पर जब मैं बात कर रहा था तब उस लड़की ने मुझ से कहा की उसकी सहेलिया कही घुमने के लिए जाने वाली है तो उस दिन तुम भी हमारे साथ चलना | जब मुझे मालूम चला तो मैं उस लड़की से मिलने के लिए उसके ग्रल्स होस्टल गया | वो लड़की कुछ अन्य लडकियो के साथ नए कपडे पहनकर तयार थी |

मैंने उस लड़की से फोन पर कहा की मैं पहुच चूका हूँ | उस लड़की ने जब मुझे देखा तो उस लड़की ने मुझ से कहा की चलो आप भी हमारे साथ घुमने चलो | उसके ऐसा कहने पर मैं भी उन लडकियो के साथ घुमने के लिए चला गया | कुछ समय तक शहर में घुमने के बाद हम लोग घर लौटकर आ गए | फिर उसके बाद मैंने उस लड़की से कहा की जब फुरसत का समय रहेगा तो मेरे घर घुमने के लिए आना | एक दिन जब मैं उस लड़की से फोन पर बात कर रहा था तो उस लड़की से मैंने कहा की अगर आपके पास फुर्सत का वक्त है तो आप मेरे घर घुमने के लिए आ सकते हो | उस दिन वो लड़की मेरे घर पहुच गयी | उसे फिर मैंने घर के अन्दर आने को कहा | वो लड़की मेरे घर के अन्दर आ गयी | फिर उस लड़की को मैंने खाने के लिए कुछ दिया | फिर कुछ समय के बाद मैंने उस लड़की से कहा की तुम अकेले आई हो और उसने कहा की हा मैं अकेली आई हुई हूँ | फिर मैंने उस लड़की को गले लगा लिया | फिर मैं उस लड़की के दूद को दबाने लगे | उसकी चूत को रगड़ने लगा | उसकी चूत को मैं अपने हाथो से रगड रहा था | कुछ समय के बाद मैंने उस लड़की की चूत में अपने लंड को डाल दिया | उस लड़की को चोदने के बाद मेरे लंड से वीर्य बाहर आने लगा | उस लड़की ने चुदाई के समय मुझ से कहा जब तुम फुर्सत रहोगे तब मैं तुमसे मिलने के लिए आऊँगी |

error:

Online porn video at mobile phone